गाँधी जयंती पर शायरी - Gandhi Jayanti Shayari in Hindi 2019

गाँधी जयंती पर शायरी - Gandhi Jayanti Shayari in Hindi 2019

Today is the 149th birthday of Mahatma Gandhi, the father of our nation. Every year his birthday, 2 October, is celebrated as Gandhi Jayanti in India. He helped to end British rule in India and made India an independent country. This is the reason that his birthday is celebrated as International Day of Non-Violence. Here we are sharing Gandhi Jayanti Par Shayari on the occasion of his birthday. These poets have been written to honor Bapu. Shayari on Gandhi Jayanti in Hindi.
Mahatma Gandhi was a good man with great character. He walked the path of truth and non-violence throughout his life. Gandhiji inspired everyone to follow truth and non-violence by giving freedom to India with non-violent weapon. His life is a source of inspiration for all.

He gave up his life on the path of truth. Gandhiji's entire Mohandas was Karamchand Gandhi. His great and good works called him Mahatma. The memories of Mahatma Gandhi, the father of the nation who sacrificed his life for the pride of the country, are still alive today.

गाँधी जयंती शायरी इन हिंदी - Mahatma Gandhi Jayanti Shayari in Hindi

Gandhi Jayanti Status in Hindi 

बापू के सपनों को फिर से सजाना है, 
 देकर लहू का कतरा इस चमन को बचाना है, 
 बहुत गा लिए हमने आजादी के गाने, 
 अब हमें भी देशभक्ति का फर्ज निभाना है।

गाँधी जयंती SMS 

जो ईश्वर को नहीं मानता उसे में इंसान नहीं मानता, 
 जो गाँधी को नहीं मानता मैं उसे इंडियन नहीं मानता।

गाँधी जयंती पर बापू की शान में शायरी 

सीधा साधा वेश था, 
 ना कोई अभिमान, 
 खादी की एक धोती पहने बापू की थी शान। 

 Gandhi Jayanti Special Shayari 

गाँधी जी थे व्यक्ति महान, 
 करता है हर नागरिक उनका सम्मान, 
 सब जानते है इन्हें बापू के नाम से, 
 हम मानते है इन्हें राष्ट्रपिता अदब से।  

Gandhi Ji Par Shayari 

महानायक वो आजादी का, 
 अटल अहिंसावादी था, 
 गोरों को छुड़वाया भारत, 
 तन पे जिसके खादी था।

गाँधी का सम्मान शायरी 

बापू ने लड़ी धरती पर अजब लड़ाई, 
 ना तोप दागी ना बन्दूक चलायी, 
 दुश्मन के किले पर भी नहीं की चढ़ाई, 
 वाह रे फ़कीर तुमने कैसी करमा दिखायी।

बापू पर शायरी 

जिसकी सोच ने कर दिया कमाल, 
 बदल दिया जिसने देश का हाल, 
 जिसने पढ़ाया सत्य और अहिंसा का पाठ,
 वो थे हमारे गाँधी बापू महान।




Post a Comment

0 Comments