Independence day shayari 15th August 2020 shayari


INDEPENDENCE DAY SHAYARI 2020

जिसका ताज हिमालय है जहाँ बहती गंगा है, 
जहाँ अनेकता में एकता है ‘सत्यमेव जयते’ जहाँ का नारा है,
 जहाँ मजहब भाईचारा है वो भारत वतन हमारा है
❤️

स्वतंत्रता दिवस शायरी 

न मरो अपनी बेवफा सनम के लिये, 
दो गज जमीन नही मिलेगी दफ़न होने के लिए, 
अगर मरना ही हैं तो मरो अपने वतन के लिए, 
हसीना भी ख़ुशी से दुप्पटा उतार देगी तुम्हारे कफ़न के लिए…
 वन्दे मातरम, जय हिन्द

15th August Shayari



Post a Comment

0 Comments